विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Oct 21, 2023

टाइगर अभी जिंदा है! कोटा से बीजेपी प्रत्याशी प्रबल प्रताप सिंह के आक्रामक तेवर, कांग्रेस को ललकारा

कल 20 अक्टूबर 2023 को कोटा विधानसभा क्षेत्र के मध्यवर्ती ग्राम दारसागर में भाजपा प्रत्याशी प्रबल प्रताप सिंह जूदेव की एक चुनावी जनसभा में वही तेवर और अंदाज दिखाई दिया जो कभी उनके पिता दिलीप सिंह जूदेव के हुआ करते थे.

Read Time: 5 mins
टाइगर अभी जिंदा है! कोटा से बीजेपी प्रत्याशी प्रबल प्रताप सिंह के आक्रामक तेवर, कांग्रेस को ललकारा
कोटा से बीजेपी प्रत्याशी प्रबल प्रताप सिंह

Chhattisgarh Assembly Election: भाजपा में टिकटों की घोषणा होने तथा चुनावी आचार संहिता लागू होने के बाद चुनाव प्रचार अभियान में तेजी आने के साथ जनता को लुभाने और तालियां बटोरने के लिए नेताओं के बयान भी सामने आने लगे हैं. ऐसे ही भाजपा की एक चुनावी सभा में कल 20 अक्टूबर को कोटा विधानसभा क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी प्रबल प्रताप सिंह जूदेव का बयान सामने आया. उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि 'मैं कांग्रेस के नेताओं, भ्रष्टाचारियों एवं अधिकारियों से कहना चाहता हूं कि मेरे कार्यकर्ताओ का बाल भी बांका हुआ तो तुमको नेस्तनाबूत कर दूंगा.. टाइगर अभी जिंदा है.' अपने इस डायलॉग के बाद नेताजी ने चुनावी सभा में खूब तालियां बटोरी.

छत्तीसगढ़ की राजनीति में स्वर्गीय दिलीप सिंह जूदेव अपने तेवर एवं अंदाज तथा हिंदू आदि छवि के कारण युवाओं में काफी लोकप्रिय रहे. अभिभाजित मध्य प्रदेश के समय से ही उनकी गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले में आवाजाही रही है. ऑपरेशन घर वापसी अभियान के कारण वह पूरे देश में चर्चा में रहे. वर्ष 2003 में हुए विधानसभा के आम चुनाव में छत्तीसगढ़ की तत्कालीन कांग्रेसी जोगी सरकार को हटाने को लेकर स्वर्गीय दिलीप सिंह जूदेव ने अपनी मूंछ दांव पर लगा दी थी. छत्तीसगढ़ की जनता ने उनका साथ दिया और दिलीप सिंह जूदेव की मूंछें बरकरार रही.

यह भी पढ़ें : Gaurela Pendra Marwahi News: पेंड्रा-बिलासपुर मार्ग पर दो सड़क हादसे, बस पलटने से 30 मजदूर घायल

कोटा सीट पर बीजेपी को जीत की तलाश

उस बात को गुजरे 20 साल हो रहे हैं. अभी वर्ष 2023 में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने वाले हैं तथा स्वर्गीय दिलीप सिंह जूदेव के बेटे प्रबल प्रताप सिंह जूदेव कोटा विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के प्रत्याशी घोषित किए गए हैं और उनका चुनाव प्रचार अभियान चालू हो चुका है.

कोटा विधानसभा क्षेत्र एक ऐसी सीट है जिसमें आजादी से आज तक भाजपा को कभी जीत नहीं मिली जबकि अनेक दिग्गज नेता यहां अपना भाग्य आजमा चुके हैं.

ऐसे में अब दिलीप सिंह जूदेव के बेटे प्रबल प्रताप सिंह जूदेव को भारतीय जनता पार्टी ने कोटा विधानसभा क्षेत्र से चुनाव मैदान में उतारा है.

प्रबल प्रताप सिंह में दिखा पिता का अंदाज

स्वाभाविक रूप से प्रबल प्रताप सिंह जूदेव इस कोटा सीट को जीतने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं.

प्रबल प्रताप सिंह जूदेव का अंदाज अपने पिता स्वर्गीय दिलीप सिंह जूदेव से जुदा नहीं है. यदा कदा जनसभा में अपने पिताजी का अंदाज उनके भीतर भी झलक ही जाता है.

कल 20 अक्टूबर 2023 को कोटा विधानसभा क्षेत्र के मध्यवर्ती ग्राम दारसागर में भाजपा प्रत्याशी प्रबल प्रताप सिंह जूदेव की एक चुनावी जनसभा में वही तेवर और अंदाज दिखाई दिया जो कभी उनके पिता दिलीप सिंह जूदेव के हुआ करते थे. इस आम सभा में कोटा विधानसभा क्षेत्र के गांव-गांव से भाजपा कार्यकर्ता शामिल हुए थे.

यह भी पढ़ें : छत्तीसगढ़ और कोटा विधानसभा में खिलेगा कमल... BJP प्रत्याशी ने कहा- इस बार हम इतिहास रचेंगे

डायलॉग मारते ही बजीं तालियां

ज़ाहिर है दूर दराज से आए कार्यकर्ताओं में जान भरने के लिए नेताजी को कुछ ना कुछ तो ऐसा कहना था जिससे तालियां बटोरने के साथ कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़े. यहां आम सभा को संबोधित करते हुए भाजपा प्रत्याशी प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने कहा कि मैं कांग्रेसियों भ्रष्टाचारियों एवं अधिकारियों से कहना चाहता हूं कि

सुन लो 'मेरे कार्यकर्ताओं का बाल भी अगर बांका हुआ तो तुमको नेस्तनाबूत कर दूंगा'.

प्रबल प्रताप सिंह जूदेव के इस कथन के बाद जाहिर है कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी करते हुए तालियां बजाईं. जिस तरह के तेवर प्रबल प्रताप सिंह जूदेव ने अपने पहली आम सभा में दिखाए हैं, उससे स्वाभाविक रूप से अंदाजा लगाया जा सकता है कि आने वाले समय में किस तरह से नेताओं की बयान बाजी और चुनावी तीर तरकश तेज होंगे.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
ट्रंप पर चली गोलियां, बाल-बाल बची जान, बाइडेन बोले -हिंसा के लिए... 
टाइगर अभी जिंदा है! कोटा से बीजेपी प्रत्याशी प्रबल प्रताप सिंह के आक्रामक तेवर, कांग्रेस को ललकारा
Doctors in Balrampur do fake surgery of woman for piles without any authenticity
Next Article
Chhattisgarh News: यहां है झोलाछाप डॉक्टरों का बोलबाला! इलाज के नाम पर लोगों की जिंदगी से हो रहा खिलवाड़
Close
;