विज्ञापन
Story ProgressBack

'इलाज कराना है तो पैसे देने होंगे', भारी पड़ा सिविल सर्जन का रिश्वत मांगना, अब हो गए सस्पेंड

Civil Surgeon Suspend: जिला अस्पताल के प्रभारी सिविल सर्जन को इलाज करने के बदले मरीज से पैसे मांगना भारी पड़ गया. इस चक्कर में वह सस्पेंड हो गए. आरोप है कि पैसे नहीं मिलने से डॉक्टर ने युवक के हड्डी का ऑपरेशन नहीं किया था. 

'इलाज कराना है तो पैसे देने होंगे', भारी पड़ा सिविल सर्जन का रिश्वत मांगना, अब हो गए सस्पेंड
डॉक्टरों के हड़ताल से लोगों को हुई परेशानी

Chhattisgarh News: छत्तीसगढ़ के कोरिया जिला अस्पताल (Koriya District Hospital) के प्रभारी सिविल सर्जन डॉ. राजेन्द्र बंसारिया को मरीज का ऑपरेशन करने के एवज में पैसे मांगने के मामले में सस्पेंड (Suspended) कर दिया गया. युवक के हाथ की हड्डी का ऑपरेशन करने के लिए डॉ. राजेंद्र बंसारिया (Dr. Rajendra Bansariya) ने 15 हजार रुपए मांगे थे. आरोप है कि रुपए नहीं मिलने पर उन्होंने इलाज नहीं किया. सीएमएचओ (CMHO) की जांच रिपोर्ट मिलने के बाद राज्य शासन ने डॉक्टर को सस्पेंड कर दिया. इसका विरोध करते हुए शुक्रवार, 28 जून को जिले के अन्य डॉक्टरों ने विरोध करते हुए धरना दिया. 

अन्य डॉक्टरों ने किया विरोध

इस कार्रवाई के विरोध में अन्य डॉक्टरों ने निलंबन वापस लेने की मांग करते हुए शुक्रवार को काम बंद कर दिया. जिससे ओपीडी की सेवाएं प्रभावित रही. मरीज परेशान होते रहे. आपको बता दें कि कोरिया जिले के विकास का 21 जून 2024 को हाथ टूट गया था. उसे कोरिया जिला अस्पताल में दाखिल किया गया था. शिकायतकर्ता कमली ने बताया कि चिकित्सक ने कहा था कि युवक के हाथ का ऑपरेशन करना पड़ेगा. परिजनों को सीएस डॉ. राजेंद्र बंसारिया ने मिलने के लिए घर बुलाया. परिजनों से चिकित्सक ने ऑपरेशन के लिए 15 हजार रुपये मांगा. परिजनों ने इसकी शिकायत सीएमएचओ से कर दी. 

सीएस को किया गया सस्पेंड

सीएस को किया गया सस्पेंड

सीएमएचओ ने लिया एक्शन

सीएमएचओ ने मामले में शिकायतकर्ता और युवक के परिजनों का बयान लिया और राज्य शासन को भेज दिया. मामले में शिकायकर्ता कमली ने कहा कि सीएस ने घर पर 15 हजार रुपये की मांग की थी. विकास के हाथ का 27 जून को ऑपरेशन हो गया और डॉक्टर ने पैसे नहीं लिए. सीएस डॉ. राजेंद्र बंसारिया के निलंबन के आदेश से भड़के चिकित्सकों ने शुक्रवार को काम बंद कर दिया. 

ये भी पढ़ें :- Human Trafficking: नाबालिक बच्चों को धोखे से छोड़ आया था किन्नर के पास, एमपी में बड़े गिरोह का हुआ खुलासा

ओपीडी सेवाएं रही बंद

ओपीडी सेवाएं रही बंद

पूरे जिले की ओपीडी रही बंद

कोरिया जिले की ओपीडी की सेवाएं बंद रहीं एवं चिकित्सक हड़ताल पर रहे. चिकित्सकों ने डॉ. राजेंद्र बंसारिया के निलंबन के विरोध में छत्तीसगढ़ डॉक्टर्स एसोसिएशन के बैनर तले काम बंद रखा. डॉक्टरों ने कहा कि बिना लिखित शिकायत और जांच के ही सीएच का निलंबन सही नहीं है. आरोप गलत है कि सीएस ने इलाज के लिए पैसे मांगे और पैसे नहीं मिलने पर इलाज नहीं किया. 26 जून को देर हो जाने के कारण ऑपरेशन नहीं किया गया. 27 जून को युवक के हाथ का ऑपरेशन किया गया है. पैसे नहीं देने पर इलाज नहीं करने का आरोप निराधार है.

ये भी पढ़ें :- Kisan News: केंद्रीय कृषि मंत्री शिवराज सिंह ने बैंक निपटान के लिए लॉन्च किया वेब पोर्टल, कृषि कथा भी शुरु

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Chhattisgarh : इस जिले में ये स्कूल बनी गौशाला! नाराज छात्र पेरेंट्स को लेकर पहुंचे कलेक्ट्रेट
'इलाज कराना है तो पैसे देने होंगे', भारी पड़ा सिविल सर्जन का रिश्वत मांगना, अब हो गए सस्पेंड
Murder or suicide Missing woman found dead in hotel room while lover body found on tracks
Next Article
प्रेमी ने प्रेमिका को गला घोंटकर उतारा मौत के घाट, खुद भी की आत्महत्या; होटल और रेलवे पटरी पर मिले शव
Close
;