विज्ञापन
Story ProgressBack

खतरा! हैवी ब्लास्टिंग से काॅलोनी के घर और मंदिर को हो रहा नुकसान, आसमान से गिर रहे हैं पत्थर-बोल्डर

तहसीलदार शशि शेखर मिश्रा ने कहा कि स्थानीय लोगों से सूचना मिलने पर हम यहां पहुंचे, ब्लास्टिंग से छिटके बोल्डर काफी बड़े हैं. एसडीएम ने जांच के बाद कंपनी को कहा आवश्यक निर्देश देने के लिए कहा है जिससे आगे ऐसी घटना न हो. उन्होंने कहा कि बड़ा हादसा टल गया.

Read Time: 3 min
खतरा! हैवी ब्लास्टिंग से काॅलोनी के घर और मंदिर को हो रहा नुकसान, आसमान से गिर रहे हैं पत्थर-बोल्डर

Chhattisgarh News: दक्षिण पूर्वी कोलफील्ड्स यानी एसईसीएल (South Eastern Coalfields Limited) चिरमिरी क्षेत्र के ओपन कास्ट कोयला खदान (Coal Mine) में हैवी ब्लास्टिंग (Heavy Blasting) से बड़े पत्थर और बोल्डर के टुकड़े छिटककर बरतुंगा कॉलोनी व मंदिर परिसर में गिरे हैं. हालांकि हादसे में किसी को चोट नहीं आई है लेकिन ये काफी खतरनाक है. स्थानीय लोग हैवी ब्लास्टिंग को लेकर कंपनी प्रबंधन का विरोध जता रहे हैं. लोगों का कहना है कि एक बड़ा हादसा टल गया है. यदि ब्लास्टिंग के दौरान उड़े पत्थरों की चपेट में कोई व्यक्ति आता तो इससे बड़ा नुकसान हो सकता था.

CG News: ब्लास्टिंग के दौरान गिरे पत्थर

CG News: ब्लास्टिंग के दौरान गिरे पत्थर

यहां-यहां गिरे पत्थर

ब्लास्टिंग के दौरान उछले बोल्डर व पत्थर छिटक कर बरतुंगा शिव मंदिर परिसर, पुरातत्व संग्रहालय व मकानों के आसपास गिरे हैं, जिससे कई जगह सड़क व पेबर ब्लॉक पत्थर क्षतिग्रस्त हो गए हैं. यदि कोई व्यक्ति इन पत्थरों की चपेट में आता तो उसकी मौत भी हो सकती थी.

CG News: ब्लास्टिंग के दौरान गिरे पत्थर को देखते लोग

CG News: ब्लास्टिंग के दौरान गिरे पत्थर को देखते हुए स्थानीय लोग

कंपनी की बड़ी लापरवाही सामने आने पर स्थानीय प्रशासन ने जांच कर कंपनी को नोटिस जारी करते हुए आवश्यक निर्देश दिये हैं. शिकायत मिलने पर एसडीएम तहसीलदार व एसईसीएल के अधिकारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने घटना की जांच की है.

स्थानीय निवासी उपेंद्र सिंह ने कहा कि नुकसान ज्यादा नहीं हुआ, बोल्डर कई घरों के छत पर गिरे हैं जिससे किसी-किसी घर की शीट टूटी है. खदान क्षेत्र से कॉलोनी 200 मीटर दूर है, हैवी ब्लास्टिंग से खदान के पत्थर छिटकर गिरे हैं. कंपनी की लापरवाही पर आगे प्रशासन से कार्रवाई की उम्मीद है.

पार्षद ने क्या कहा?  

इस मामले में वार्ड पार्षद रमेश कुमार ने कहा कि दोपहर जानकारी मिली कि एक बड़ा पत्थर रोड पर गिरा है, सड़क और पेबर ब्लॉक क्षतिग्रस्त हुए हैं. ओपन कास्ट में हैवी ब्लास्टिंग से मंदिर परिसर व आसपास के घरों के पास बड़े पत्थर गिरे हैं, इससे नुकसान तो नहीं हुआ, लेकिन यदि लोग रोड या मंदिर के आसपास होते तो बड़ा नुकसान हो सकता था. यह एसईसीएल प्रबंधन की बड़ी लापरवाही है.

कंपनी को नोटिस देंगे, ताकि ऐसी घटना फिर न हो : तहसीलदार 

तहसीलदार शशि शेखर मिश्रा ने कहा कि स्थानीय लोगों से सूचना मिलने पर हम यहां पहुंचे, ब्लास्टिंग से छिटके बोल्डर काफी बड़े हैं. एसडीएम ने जांच के बाद कंपनी को कहा आवश्यक निर्देश देने के लिए कहा है जिससे आगे ऐसी घटना न हो. उन्होंने कहा कि बड़ा हादसा टल गया.

यह भी पढ़ें : Korba Lok Sabha: राज्यसभा सांसद को लोकसभा का टिकट देकर BJP ने बनाया हॉट सीट, कांग्रेस किस पर लगाएगी दांव!

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
switch_to_dlm
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Close