विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Dec 16, 2023

कंबल में टांगकर मरीज को लाए परिजन, MP के 1000 बेड के अस्पताल में मरीज को नहीं मिली स्ट्रेचर

बताया गया कि मरीज के सीने में दर्द की शिकायत लेकर परिजन उसे इस अस्पताल में लेकर पहुंचे थे लेकिन एक घंटे तक स्ट्रेचर के इंतजार में मरीज को लेकर परिजन खड़े रहे. जब उन्हें स्ट्रेचर नहीं मिला तो कंबल में डालकर वे डॉक्टर तक पहुंचे.

कंबल में टांगकर मरीज को लाए परिजन, MP के 1000 बेड के अस्पताल में मरीज को नहीं मिली स्ट्रेचर
ग्वालियर में कंबल पर मरीज को लेकर जाते परिजन

Gwalior News: ग्वालियर (Gwalior) में एक बार फिर मानवता को शर्मसार करने वाली तस्वीर सामने आई है जो सरकारी अस्पतालों (Government Hospital) में चाक-चौबंद व्यवस्थाओं के दावों की पोल खोल रही है. अंचल के सबसे बड़े जयारोग्य चिकित्सा समूह के करोड़ों की लागत से बने एक हजार बेड के अस्पताल में मरीजों को ले जाने के लिए स्ट्रेचर तक उपलब्ध नहीं है. अटेंडर को मजबूरी में अपने बीमार परिजनों को किस तरह अस्पताल के भीतर ले जाना पड़ता है, इसकी गवाही ये तस्वीरें दे रही हैं.

यह भी पढ़ें : काम पर जा रहे युवक को अचानक लगी गोली, कैंप में फायरिंग प्रैक्टिस कर रहे थे सुरक्षा बल

स्ट्रेचर नहीं मिला तो कंबल में डालकर ले गए मरीज

ग्वालियर में आजकल सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जो मध्य प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर सरकार की ओर से बढ़-चढ़कर किए जाने वाले दावों की पोल खोल रहा है. संभाग के सबसे बड़े अस्पताल जेएएच समूह के पांच सौ करोड़ की लागत से बने एक हजार बेड के अस्पताल में सुविधाओं को लेकर बड़े-बड़े दावे किए जाते हैं. लेकिन वायरल वीडियो में साफ दिख रहा है कि परिजन अस्पताल परिसर में अपने मरीज को  कंबल में टांगकर एक घंटे तक घूमते रहे लेकिन उन्हें एक स्ट्रेचर नहीं मिल सकी. 

Latest and Breaking News on NDTV

यह भी पढ़ें : MP News: कई दिनों से लापता दो बहनों के शव कुएं में तैरते हुए मिले, गांव में फैली सनसनी

बोलने को तैयार नहीं अफसर

बताया गया कि मरीज के सीने में दर्द की शिकायत लेकर परिजन उसे इस अस्पताल में लेकर पहुंचे थे लेकिन एक घंटे तक स्ट्रेचर के इंतजार में मरीज को लेकर परिजन खड़े रहे. जब उन्हें स्ट्रेचर नहीं मिला तो कंबल में डालकर वे डॉक्टर तक पहुंचे. इस अस्पताल में यह पहली घटना नहीं है. कुछ समय पहले ऐसे ही एक शव को ले जाते हुए लोगों का वीडियो वायरल हुआ था. उसके बाद भी अस्पताल की व्यवस्थाओं में कोई सुधार नहीं हुआ. अस्पताल प्रबंधन व्यवस्थाओं को सुधारना तो दूर बल्कि इस संवेदनशील घटना पर मीडिया से बात करने तक को तैयार नहीं है.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
उज्जैन: महाकाल की सवारी के लिए किए जा रहे हैं ये खास इंतजाम, बख्शे नहीं जाएंगे मुनाफाखोर
कंबल में टांगकर मरीज को लाए परिजन, MP के 1000 बेड के अस्पताल में मरीज को नहीं मिली स्ट्रेचर
honorable justice rohit arya Joins BJP retired MP High Court judge Rohit Arya starts political innings
Next Article
Rohit Arya: एक और जज ने ज्वाइन की भाजपा, एमपी हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज रोहित आर्य ने शुरू की राजनीतिक पारी
Close
;