विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Dec 05, 2023

अटेंडेंस पूरी न होने के चलते फॉरवर्ड नहीं हुआ एग्जाम फॉर्म, छात्र ने की सुसाइड की कोशिश

एनटीपीसी कॉलेज के डायरेक्टर राकेश सिंघई का कहना है कि विश्वविद्यालय के नियमानुसार छात्र की कॉलेज में 75 प्रतिशत उपस्थिती होनी चाहिए. लेकिन राहुल की उपस्थिती सिर्फ पांच प्रतिशत ही है.

अटेंडेंस पूरी न होने के चलते फॉरवर्ड नहीं हुआ एग्जाम फॉर्म, छात्र ने की सुसाइड की कोशिश
इंजीनियरिंग के छात्र ने की सुसाइड की कोशिश

Shivpuri News: शिवपुरी के एनटीपीसी इंजीनियरिंग कॉलेज (NTPC Engineering College) के छात्र ने सोमवार की देर शाम अपने हॉस्टल के कमरे में लगे पंखे से फांसी लगाकर सुसाइड करने की कोशिश की. छात्र के सुसाइड करने के प्रयास की वजह एग्जाम फॉर्म (Exam Form) फॉरवर्ड न होना बताया जा रहा है. जैसे ही छात्र के सुसाइड करने की कोशिश की खबर अन्य छात्रों को लगी, सभी ने एकजुट होकर कॉलेज प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी कर नाराजगी जाहिर की.

बता दें कि इस घटना की सूचना कॉलेज प्रबंधन की ओर से सतनवाड़ा थाना पुलिस को नहीं दी गई. इस मामले को लेकर कैमरे पर प्रबंधन कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है. उनका कहना है कि छात्र कॉलेज प्रबंधन को ब्लैकमेल करने की कोशिश कर रहा था. फिलहाल इस मामले को लेकर कॉलेज प्रबंधन यूनिवर्सिटी के वरिष्ठ अधिकारियों और छात्र के परिजनों को बुलाकर बात करने और मामले की जांच की बात कह रहा है. यह मामला सोमवार देर शाम सामने आया था. मामला सामने आने के बाद काफी देर तक छात्र हंगामा करते हुए नजर आ रहे थे.

यह भी पढ़ें : 7 दिसंबर को राजभवन के सामने मुंह काला करूंगा... दावे पर अभी भी कायम फूल सिंह बरैया!

एग्जाम फॉर्म नहीं हुआ फॉरवर्ड

शिवपुरी में मौजूद सतनवाड़ा के एनटीपीसी कालेज में इंजीनियरिंग फाइनल ईयर का छात्र राहुल साहू कॉलेज के हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करता है. बताया गया है कि कॉलेज में अनुपस्थिती ज्यादा दर्ज होने के कारण उसका एग्जाम फॉर्म फॉरवर्ड नहीं हो सका था. ऐसे में राहुल साहू डिप्रेशन में चला गया और उसने परेशान होकर देर शाम हॉस्टल के कमरे के पंखे पर चादर का फंदा बनाकर फांसी लगाकर सुसाइड करने की कोशिश की. गनीमत रही कि सही समय पर उसके साथ हॉस्टल में रह रहे छात्रों ने राहुल को देखा और दरवाजा तोड़कर उसे बचा लिया.

यह भी पढ़ें : MP News: स्कूल का खाना खाकर 40 बच्चे हुए बीमार, 3 की हालत नाजुक...जानिए मामला 

कॉलेज ने क्या कहा?

मामले की जानकारी कॉलेज के डायरेक्टर राकेश सिंघई तक पहुंची तो उन्होंने छात्र को बुलाकर उनसे बातचीत की. इस मामले में एनटीपीसी कॉलेज के डायरेक्टर राकेश सिंघई का कहना है कि विश्वविद्यालय के नियमानुसार छात्र की कॉलेज में 75 प्रतिशत उपस्थिती होनी चाहिए. लेकिन राहुल की उपस्थिती सिर्फ पांच प्रतिशत ही है. इसके अलावा वह किसी भी सेमेस्टर में उपस्थित नहीं हुआ. इस कारण उसका एग्जाम फॉर्म फॉरवर्ड नहीं हो पाया. इसी के चलते छात्र ने यह प्रयास किया है. हम छात्र के परिजनों और विश्वविद्यालय से बात कर रहे हैं.

Helplines
Vandrevala Foundation for Mental Health9999666555 or help@vandrevalafoundation.com
TISS iCall022-25521111 (Monday-Saturday: 8 am to 10 pm)
(If you need support or know someone who does, please reach out to your nearest mental health specialist.)

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
MP सीएम का बड़ा ऐलान, अब दो हिस्सों में बंटेगी शहीद जवान को दी जाने वाली एक करोड़ रुपए की अनुग्रह राशि, जानें कैसे?
अटेंडेंस पूरी न होने के चलते फॉरवर्ड नहीं हुआ एग्जाम फॉर्म, छात्र ने की सुसाइड की कोशिश
Guna News Patient did not get stretcher at Bamori CSC Center dying medical system
Next Article
Guna News: भगवान भरोसे चल रहा बमोरी सीएचसी? मरीज को नहीं नसीब हुआ स्ट्रेचर
Close
;