विज्ञापन
Story ProgressBack

Balodabazar Violence के बाद NQAS की टीम पहुंची जिला अस्पताल, जांच की आंच से सब सतर्क!

CG News: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बलौदाबाजार (Baloda Bazar) की हिंसा की आग ठंडी होते ही जिला अस्पताल में NQAS की तीन सदस्यी टीम पहुंच गई. दिल्ली, लखनऊ और ओडिशा से आया ये तीन सदस्यी दल ओपीडी से लेकर ऑपरेशन थिएटर और दवा वितरण केंद्र तक की तमाम सुविधाओं का निरीक्षण कर रहे हैं. इन दिनों जिला अस्पताल का स्टाफ भी सतर्क है.

Read Time: 3 mins
Balodabazar Violence के बाद NQAS की टीम पहुंची जिला अस्पताल, जांच की आंच से सब सतर्क!
बलौदा बाजार जिला अस्पताल में पहुंची NQAS की टीम, जांच शुरू.

Baloda Bazar Violence: छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के बलौदाबाजार (Baloda Bazar) के जिला अस्पताल में इन दिनों राष्ट्रीय आश्वासन गुणवत्ता मानक की टीम निरीक्षण कर रही है. राष्ट्रीय स्तर की 3 सदस्यीय टीम नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड (NQAS) की जांच कर रही है. लखनऊ, ओडिशा और दिल्ली से आए हुए टीम के सदस्य अस्पताल की व्यवस्था देख रहे हैं. साथ ही ओपीडी से लेकर ऑपरेशन थिएटर और दवाई वितरण केंद्र तक की तमाम सुविधाओं का निरीक्षण कर रहे हैं.

तीन साल पहले मिला था सर्टिफिकेट

जिला अस्पताल को 3 साल पहले यह सर्टिफिकेट मिला था.

जिला अस्पताल को 3 साल पहले यह सर्टिफिकेट मिला था.

साथ ही स्टॉप, मरीज और डॉक्टर से अस्पताल की सभी व्यवस्था की जानकारी एकत्रित कर रहे हैं. जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. राजेश अवस्थी ने बताया कि उनके अस्पताल को तीन वर्ष पहले सर्टिफिकेट मिला था, अब दोबारा 15 सुविधाओं के लिए आवेदन किया गया था, जिसकी जांच के लिए टीम निरीक्षण करने आई है.

विश्वास बढ़े इसलिए दिये जा रहे सर्टिफिकेट

विश्वास बढ़े इसके लिए नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड (NQAS) की बात की जा रही है. इसी क्रम में जिला अस्पताल बलौदाबाजार में नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड की जांच करने राष्ट्रीय स्तर की टीम पहुंची हुई है.

सरकारी अस्पतालों में मिलने वाली सुविधाएं और गुणवत्ता पर मरीज और मरीजों के परिजनों को विश्वास हो इसके लिए केंद्र सरकार प्रयास कर रही है. इसी क्रम में जिला अस्पतालों में मिलने वाली इलाज की सुविधा और व्यवस्था को लेकर अस्पतालों को सर्टिफिकेट दिए जा रहे हैं. 

अब 15 सुविधाओं के लिए हो रही बात

अब 15 सुविधाओं के लिए सर्टिफिकेट मांगे जाने की बात हो रही है.

अब 15 सुविधाओं के लिए सर्टिफिकेट मांगे जाने की बात हो रही है.

दरअसल यह निरीक्षण 3 साल पहले जिला अस्पताल को 12 सुविधाओं के लिए मिली एनक्यूएएस सुविधा के बाद अब 15 सुविधाओं के लिए सर्टिफिकेट मांगे जाने की बात हो रही है. टीम के सदस्य साफ-सफाई और गुणवत्ता के साथ ही अस्पताल के स्टाफ और डॉक्टर का मरीजों के साथ अपनाए जाने वाले व्यवहार, इलाज , दवा वितरण, सैंपल जांच सहित अन्य सुविधाओं को दिए जाने को भी देख रहे हैं.

ये भी पढ़ें- Depression: पिता ने अपने हाथों से दबा दिया पांच साल के मासूम बेटे का गला, फिर खुद कर ली ...

प्रति बेड इतने रुपये मिलेंगे

बता दें कि बलौदाबाजार जिले तीन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को भी इस वर्ष नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैंडर्ड (NQAS) सर्टिफिकेट मिला है. इसमें प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मोपका,कटगी और बरपाली शामिल हैं.केंद्र सरकार की तरफ से यह सर्टिफिकेट 3 वर्ष के लिए दिया जाता है. इसके मिलने से जहां प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को प्रति वर्ष 3 लाख रुपये तो जिला अस्पताल को प्रति बेड 6000 रुपये दिए जाएंगे.बता दें की जिला अस्पताल बलौदाबाजार में 150 बेड हैं. 

ये भी पढ़ें- धार में महिला पर अत्याचार, कांग्रेस ने पूछा ये क्या हो रहा मोहन सरकार, सभी 7 आरोपी गिरफ्तार

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Indian Railway: रंग लायी अश्विनी वैष्णव-विष्णु देव साय की मुलाकात, छत्तीसगढ़ के ये प्रोजेक्ट जल्द होंगे शुरू
Balodabazar Violence के बाद NQAS की टीम पहुंची जिला अस्पताल, जांच की आंच से सब सतर्क!
Dhamtari: The government built a stadium for the players, but forgot to make a way for commuting, know what is the whole matter
Next Article
Dhamtari Mini Stadium: खिलाड़ियों के लिए स्टेडियम तो बना दिया, लेकिन आने-जाने का रास्ता बनाना भूल गया प्रशासन !
Close
;