विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Nov 24, 2023

'वाह रे विकास का हाल'! जिला मुख्यालय बने 24 साल बीत गए, नहीं बदली सड़कों की सूरत....

Korea News: ओड़गी नाका (Odgi Naka) से कुमार चौक (Kumar Chowk) के बीच 40 से अधिक खंभे हाईवे से लगे हैं, जिनकी शिफ्टिंग जरूरी है.

Read Time: 4 mins
'वाह रे विकास का हाल'! जिला मुख्यालय बने 24 साल बीत गए, नहीं बदली सड़कों की सूरत....

Korea News: कोरिया (Korea) जिला मुख्यालय में एनएच सड़क चौड़ीकरण से पहले बिजली खंभों की शिफ्टिंग जरूरी है. फरवरी 2019 में सड़क से लगे कुछ खम्भों की शिफ्टिंग की गई थी, लेकिन इसके बाद हाईवे से लगे पोल बिजली विभाग ने नहीं हटाए. ओड़गी नाका (Odgi Naka) से कुमार चौक  (Kumar Chowk) के बीच 40 से अधिक खंभे हाईवे से लगे हैं जिनकी शिफ्टिंग जरूरी है. 

'अब तक बजट राशि नहीं मिली'

तत्कालीन कलेक्टर डोमन सिंह (Doman Singh) ने खंभों की शिफ्टिंग के लिए डीएमएफ से राशि दिए जाने की बात कही थी. जबकि जिला प्रशासन से बिजली विभाग को अब तक बजट राशि नहीं मिली. बिजली विभाग के अफसर भी बजट नहीं होने की बात कहकर खंभों की शिफ्टिंग का कार्य नहीं करवा रहे हैं, जिससे आगे चौड़ीकरण में समस्या आ सकती है. बेहतर आवागमन और शहरी व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिए जिला प्रशासन ने 13 दिसंबर 2022 को खरवत चौक से जमगहना तक 13 किमी सड़क चौड़ीकरण के लिए नाप-जोख शुरू करवाया था. 

Latest and Breaking News on NDTV

परेशानी का करना पड़ रहा सामना 

सर्वे रिपोर्ट तैयार कर इस पर मंजूरी के लिए राज्य सरकार को प्रस्ताव भेजा गया था, जिससे सड़क पर लगने वाली जाम से निजात मिल सके, लेकिन 30 से 40 फीट तक सड़क चौड़ीकरण से पहले बिजली खंभों की शिफ्टिंग का कार्य जरूरी है, जिसमें विभागीय प्रक्रिया में काफी समय लग सकता है. बता दें कि जिला मुख्यालय में छिंदडांड से लेकर शहर की अन्य सड़कें लगातार अतिक्रमण के कारण संकरी होती गईं हैं. कुछ लोगों की लापरवाही के कारण शहर की 90 फीसदी आबादी को जाम से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. 

मुख्य सड़क के किनारे 10 फीसदी दुकानें ही संचालित हैं. सड़कों पर 5 फीट तक अवैध कब्जे से हाईवे की सड़क गली में तब्दील हो गई है. शहरवासियों का भी मानना है कि बायपास बनने के बाद शहर से आवागमन करने वाली वाहनों की संख्या ही कम हो गई है, जिसका असर फिर व्यापार पर पड़ रहा है. ऐसे में अब युवा भी शहर की सड़क चौड़ीकरण के लिए आगे आ गए हैं. मामले में जेई केशव चंद्रा (JE Keshav Chandra) ने कहा कि शिफ्टिंग का प्रस्ताव भेजा गया है.

Latest and Breaking News on NDTV

ये भी पढ़ें- Indore में सैन्य छावनी से लेकर IIT और रिहायशी इलाकों तक तेंदुओं की हलचल तेज

सड़क पर ट्रैफिक दबाव अधिक

शहर के मुख्य सड़क पर दिन रात तैनात रहने वाली ट्रैफिक पुलिस बताती है कि सड़क संकरी हैं. एनएच होने के कारण वाहनों की आवाजाही 24 घंटे होती है. इसमें सुबह 11 बजे से शाम 7 बजे तक सड़क पर वाहनों का ज्यादा दबाव रहता है. चौक चौराहों में भी जगह कम है. हालांकि बायपास बनने के बाद भारी वाहनों की संख्या में कमी आई है. हालांकि सड़क किनारे से अतिक्रमण हटाने नगर पालिका टीम समय-समय पर कार्रवाई करती है.

Latest and Breaking News on NDTV

मामले में सीएसपीडीसीएल के एसई रमेश ठाकुर (SE Ramesh Thakur) ने कहा कि पोल शिफ्टिंग को चौड़ीकरण में रुकावट नहीं बोल सकते, बिजली विभाग के पास ऐसा प्रस्ताव या पत्र नहीं आया है. यदि शिफ्टिंग जरूरी है तो प्रस्ताव मिलने के बाद संबंधित विभाग को डिमांड राशि का भुगतान करना होगा. इसके बाद शहर में हाइवे किनारे से खम्भों की शिफ्टिंग करवाई जा सकती है. 

ये भी पढ़ें- उत्तरकाशी सुरंग में फंसे मजदूरों के लिए उज्जैन के महाकाल मंदिर में की गई विशेष पूजा और महामृत्युंजय जाप

शहर के अनुराग दुबे (Anurag Dubey) ने कहा कि चौड़ीकरण जरूरी है. बायपास तो हर शहर में होती है लेकिन मुख्य मार्ग से जाम की समस्या से निपटना जरूरी है. सरकार चाहे किसी की भी हो चौड़ीकरण का मुद्दा सबसे प्रमुख मांग है. सड़क चौड़ी होती है तो इससे शहर का विकास होगा. लोगों को जाम से राहत मिलेगी.

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
छत्तीसगढ़ : बीजापुर में नक्सलियों ने किया IED ब्लास्ट, 2 जवान शहीद, 4 घायल
'वाह रे विकास का हाल'! जिला मुख्यालय बने 24 साल बीत गए, नहीं बदली सड़कों की सूरत....
Surajpur SDM broke journalist's mobile, assaulted Congress workers...incident captured in CCTV
Next Article
Chhattisgarh: SDM ने तोड़ा पत्रकार का मोबाइल, कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ की मारपीट...सीसीटीवी में घटना कैद
Close
;