विज्ञापन
Story ProgressBack
This Article is From Dec 19, 2023

'भारत दर्शन यात्रा' पर पैदल निकला बिहार का 23 वर्षीय युवा, सद्भावना और भाईचारे का दे रहा है संदेश

तेइस वर्षीय युवा सच्चिदानंद मिश्रा 13 दिसंबर को अपने घर से भारत दर्शन यात्रा पर निकले हुए हैं. वे छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर से होते हुए आज 19 दिसंबर को मां नर्मदा के उद्गम स्थल अमरकंटक पहुंचे. उन्होंने मां नर्मदा की पूजा-अर्चना कर अपनी आगामी यात्रा की कुशल कामना हेतु प्रार्थना की.

Read Time: 3 mins
'भारत दर्शन यात्रा' पर पैदल निकला बिहार का 23 वर्षीय युवा, सद्भावना और भाईचारे का दे रहा है संदेश
सच्चिदानंद इसके आगे ग्वालियर-उज्जैन होते हुए गुजरात और महाराष्ट्र जाएंगे.

Gaurela-Pendra-Marwahi News: कहते हैं कुछ अच्छा करने के लिए कोई सही वक्त नहीं होता, आप जब भी इसकी शुरुआत कर दें वही सही वक्त होता है. कुछ ऐसा ही बिहार (Bihar) के सीतामढ़ी (Sitamarhi) के रहने वाले युवा सच्चिदानंद मिश्रा ने किया. सच्चिदानंद बिना किसी बड़ी तैयारी के ही सीमित संसाधनों के साथ भारत भ्रमण (Bharat Visit) पर निकल पड़े हैं. अपने इस हौसले के बदौलत वह बिहार, झारखंड (Jharkhand) और छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) होते हुए नर्मदा नदी के उद्गम स्थल अमरकंटक (Amarkantak) पहुंच गए हैं. 

तेइस वर्षीय युवा सच्चिदानंद मिश्रा 13 दिसंबर को अपने घर से भारत दर्शन यात्रा पर निकले हुए हैं. वे छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर से होते हुए आज 19 दिसंबर को मां नर्मदा के उद्गम स्थल अमरकंटक पहुंचे. उन्होंने मां नर्मदा की पूजा-अर्चना कर अपनी आगामी यात्रा की कुशल कामना हेतु प्रार्थना की. सच्चिदानंद ने बताया कि अमरकंटक में उन्हें बहुत अच्छा लगा.

सीमित संसाधनों के साथ निकले यात्रा पर

सच्चिदानंद ने बताया कि उन्होंने बी कॉम की पढ़ाई की है. उनके पिता पुरोहित हैं. वे एक चार्टेट एकाउंटेंट के साथ जॉब करते थे. इसी दौरान उनके मन में भारत भ्रमण यात्रा का विचार आया, जिसके बाद वह सीमित संसाधनों के साथ ही भारत भ्रमण पर निकल पड़े हैं. वह यह यात्रा जन सहयोग से कर रहे हैं. सच्चिदानंद के दो भाई भी हैं. वह अपने पिता की दूसरे नंबर की संतान हैं.

सच्चिदानंद बिहार के सीतामढ़ी के रहने वाले हैं.

सच्चिदानंद बिहार के सीतामढ़ी के रहने वाले हैं.

सद्भावना और भाईचारे का दे रहे हैं संदेश

सच्चिदानंद ने बताया कि उनकी इस यात्रा का उद्देश्य सद्भावना, भाईचारा, अमन, चैन और शांति है. वह इसका संदेश जगह-जगह देते हुए यात्रा कर रहे हैं. सच्चिदानंद बिहार के सीतामढ़ी से झारखंड के धनबाद और रायडीह होते हुए छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर पहुंचे. जहां से वह बैकुंठपुर से होते हुए मध्य प्रदेश के अनूपपुर पहुंचकर उन्होंने अमरकंटक में मां नर्मदा के दर्शन किए. 

इसके आगे वह ग्वालियर से होकर उज्जैन जाएंगे. जहां से वह गुजरात और महाराष्ट्र की तरफ आगे बढ़ जाएंगे. उन्होंने बताया कि उन्होंने अपनी इस यात्रा के समापन का समय तय नहीं किया है, लेकिन उनकी यात्रा लगातार चलती रहेगी. इसके पहले वह केदारनाथ और अमरनाथ की भी यात्रा कर चुके हैं.

ये भी पढ़ें - सतपुड़ा टाइगर रिजर्व : कोर एरिया में आग नहीं जला सकते, पर 'माननीय' के लिए चूल्हे पर बना मुर्गा-भरता-बाटी

ये भी पढ़ें - कवर्धा में एक भी रोहिंग्या मुस्लिम हो तो दिखाओ... पूर्व विधायक मोहम्मद अकबर का BJP को चैलेंज

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Spark Award: राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन में उत्कृष्ट कार्यों के लिए छत्तीसगढ़ को आज मिलेंगे 5 राष्ट्रीय पुरस्कार
'भारत दर्शन यात्रा' पर पैदल निकला बिहार का 23 वर्षीय युवा, सद्भावना और भाईचारे का दे रहा है संदेश
Surajpur SDM broke journalist's mobile, assaulted Congress workers...incident captured in CCTV
Next Article
Chhattisgarh: SDM ने तोड़ा पत्रकार का मोबाइल, कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ की मारपीट...सीसीटीवी में घटना कैद
Close
;