विज्ञापन
Story ProgressBack

Balodabazar Violence: बलौदा बाजार आगजनी को लेकर नेता प्रतिपक्ष का बड़ा बयान, बोले- 'व्हाट्सएप मैसेज से बुलाई गई 25 हजार की भीड़'

Balodabazar Aagjani Case: नेता प्रतिपक्ष डा. चरणदास मंहत ने आरोप लगाया कि बलौदा बाजार में हिंसा भड़काने के लिए शहर में 25 हजार की भीड़ को व्हाट्सएप मैसेज से बुलाया गया, उनके मुताबिक लोग गाड़ियों में लोग डंडे लेकर घूम रहे थे.

Read Time: 3 mins
Balodabazar Violence: बलौदा बाजार आगजनी को लेकर नेता प्रतिपक्ष का बड़ा बयान, बोले- 'व्हाट्सएप मैसेज से बुलाई गई 25 हजार की भीड़'

Balodabazar Aagjani Case: बलौदा बाजार में हुई आगजनी की घटना को लेकर बैकुंठपुर राजीव भवन के सामने प्रदर्शन करने पहुंचे नेता प्रतिपक्ष डॉ चरणदास मंहत ने बलौदाबाजार की घटना में सुनियोजित करार दिया है. उन्होंने आरोप लगाया कि बलौदाबाजार में हिंसा और आगजनी के लिए सुनियोजित तरीके से भीड़ जुटाई गई थी.

नेता प्रतिपक्ष डा. चरणदास मंहत ने आरोप लगाया कि बलौदा बाजार में हिंसा भड़काने के लिए शहर में 25 हजार की भीड़ को व्हाट्सएप मैसेज से बुलाया गया, उनके मुताबिक लोग गाड़ियों में लोग डंडे लेकर घूम रहे थे.

ये भी पढ़ें- Balodabazar Violence: सामने आई बलौदा बाजार आक्रोश की असली वजह, तो इसलिए भड़की हिंसा?

बलौदा बाजार में हिंसा में सैंकड़ों की संख्या में जलाए गए चार और दो पहिया वाहन

 गत 10 जून बलौदा बाजार जिले के ग्राम-महकोनी में जैतखाम के अपमान व तोड़-फोड़ मामले में संतोषप्रद कार्रवाई नहीं होने की स्थिति में सामाजिक संगठन द्वारा आयोजित रैली के दौरान उग्र प्रदर्शन के बाद जिला कलेक्ट्रेट व एसपी कार्यालय  परिसर में हुई आगजनी से सैकड़ों की संख्या में दो पहिया, चार पहिया वाहनों व शासकीय संपत्ति को क्षति पहुंचाई गई थी.

नेता प्रतिपक्ष मंहत ने सीएम विष्णु देव साय की नेतृत्व वाली सरकार पर उठाए सवाल

कांग्रेस नेता महंत ने बलौदा बाजार आगजनी के लिए सीएम साय के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार की नाकामी और लचर कानून-व्यवस्था को दोषी करार दिया. उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालय में इस प्रकार की घटना घटित हुई है, जिसका परिणाम जिले के आमजनों को भुगतने के लिए मजबूर होना पड़ा, इन बातों का जबाव साय सरकार को देना चाहिए. 

बलौदा बाजार हिंसा और आगजनी को लेकर कांग्रेस कमेटी कोरिया ने किया धरना-प्रदर्शन

रिपोर्ट के मुताबिक बलौदा बाजार आगजनी और हिंसा को लेकर मंगलवार को कांग्रेस कमेटी कोरिया व मनेद्रगढ़-चिरमिरी-भरतपुर कांग्रेस कमेटी द्वारा धरना-प्रदर्शन किया गया. धरने में कोरबा सांसद ज्योत्सना महंत, पूर्व विधायक अंबिका सिंहदेव, डॉ विनय जायसवाल, गुलाब कमरो, जिला अध्यक्ष प्रदीप गुप्ता, अशोक श्रीवास्तव व अन्य मौजूद रहे. 

बलौदा बाजार आगजनी के लिए सीएम साय के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार की नाकामी और लचर कानून-व्यवस्था को दोषी करार देते हुए मंहत ने कहा कि जिला मुख्यालय में हुई घटना से आमजन को तकलीफ से गुजरना पड़ा, इसका जबाव साय सरकार को देना चाहिए. 

बलौदा बाजार में हुई घटना के बाद लोग खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे 

प्रदर्शन के दौरान अन्य कांग्रेस वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश में जब से भाजपा की सरकार बनी है, तब से आए दिन आगजनी और हिंसक घटनाएं बढ़ी हैं. उन्होंने कहा कि यह प्रदर्शन प्रदेश की लचर कानून व्यवस्था को लेकर भाजपा सरकार को जगाने की मुहिम है. अभी छह माह भी नहीं हुए सत्ता में आए और प्रदेश में आम लोग खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें-Balodabazar Violence: फिलहाल बलौदाबाजार शहर में 20 जून तक लागू रहेगी धारा 144, 21 सदस्यीय टीम कर रही जांच

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
कोरिया में RTI आवेदन में सामने आ रही गड़बड़ी, 2700 बच्चों ने दिया आवेदन
Balodabazar Violence: बलौदा बाजार आगजनी को लेकर नेता प्रतिपक्ष का बड़ा बयान, बोले- 'व्हाट्सएप मैसेज से बुलाई गई 25 हजार की भीड़'
If British Built Dams Were Maintained There Wouldnt Be Such a Water Crisis
Next Article
अंग्रेजों के बनाए डैम को संभाल लेते तो.... पानी की नहीं होती इतनी किल्लत
Close
;