विज्ञापन
Story ProgressBack

Durg में भीषण गर्मी, Dialysis के दौरान पसीने से तरबतर हो रहे मरीज... डायलिसिस यूनिट का AC 3 महीने से खराब

Durg News: पिछले तीन महीने से डायलिसिस यूनिट का एसी खराब है. जिसके चलते मरीजों को डायलिसिस कराने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

Read Time: 3 mins
Durg में भीषण गर्मी,  Dialysis के दौरान पसीने से तरबतर हो रहे मरीज... डायलिसिस यूनिट का AC 3 महीने से खराब

दुर्ग के जिला अस्पताल में प्रधानमंत्री मुफ्त डायलिसिस योजना (Prime Minister Free Dialysis Scheme) के तहत संचालित डायलिसिस यूनिट का भीषण गर्मी में हाल-बेहाल हो गया है. दरअसल, पिछले तीन महीने से डायलिसिस यूनिट का एसी खराब है. इसकी वजह से सामान्य मरीजों की डायलिसिस के लिए बना चार मशीनों वाला कक्ष और हेपेटाइटिस सी मरीजों की डायलिसिस के लिए एक मशीन वाला कक्ष ठंडा नहीं हो पा रहा है. हर किडनी मरीज की किडनी डायलिसिस में औसतन 4 घंटे का समय लगता है. ऐसे में इस भीषण गर्मी के बीच मरीज को डायलिसिस कराने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

7 हेपेटाइटिस और 35 सामान्य मरीजों का होता है डायलिसिस

दरअसल, इन दिनों दुर्ग समेत पूरे छत्तीसगढ़ में भीषण गर्मी पड़ रही है. भीषण गर्मी के इस दौर में मरीज पसीने से तरबतर हो रहे हैं. हालांकि गर्मी का सीजन निकलने के बाद विभाग के जिम्मेदारों ने नया एसी लगाने के लिए कोटेशन मंगाया है, बता दें कि जिला अस्पताल के इस सेंटर पर हर महीने 35 सामान्य किडनी मरीजों और 7 हेपेटाइटिस मरीजों की रोटेशन अनुसार डायलिसिस की जाती है. वहीं सेंटर का संचालन कोलकाता की एस्काग संजीवनी नाम की एक निजी एजेंसी कर रही है.

एजेंसी को जारी किया गया नोटिस

नए सिविल सर्जन डॉ. हेमंत साहू ने कहा, 'दोनों कक्षों में नया एसी लगाने के लिए निजी कंपनी ने कोटेशन मंगा लिया है. शीघ्र ही दोनों कक्षों में एसी लग जाएगी, अगर एसी नहीं लगती है तो एजेंसी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल परिसर के डायलिसिस सेंटर का संचालन निजी एजेंसी करती है. इस अस्पताल की तरह से उसे केवल कक्ष दिया गया है.

सिविल सर्जन डॉ. हेमंत साहू ने कहा, 'वहां लगे तीन एसी खराब होने की जानकारी जैसे ही मिली मैंने एजेंसी को नोटिस जारी कर दिया. एजेंसी के हेडऑफिस से मुझे बताया गया कि एसी लगाने उन्होंने कोटेशन मंगा लिया है.  शीघ्र ही तीनों एसी नया लग जाएगा. डॉ. ने आगे कहा, 'नहीं लगने पर मैंने उन्हें कार्रवाई करने की चेतावनी दी है.'

ये भी पढ़े: पिछले 1 महीने से क्यों सुलग रहा बलौदा बाजार? 100 से अधिक गाड़ियां फूंक दी, कलेक्टर ऑफिस में भी आगजनी...!

जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री मुफ्त डायलिसिस योजना के तहत ये पहला मुफ्त में डायलिसिस करने वाला सेंटर है. यहां पहुंचने वाले मरीजों का रोटेशन बनाकर समय नियत कर दिया जाता है. जिले में मुफ्त डायलिसिस का दूसरा सेंटर चंदूलाल चंद्राकर मेडिकल कॉलेज में है. यहां अभी दो मशीनें संचालित है. आयुष्मान से भी मुफ्त डायलिसिस होती है. जिला अस्पताल में डायलिसिस के लिए आने वाले मरीजों की सुविधा का ख्याल नहीं रखा जा रहा.

ये भी पढ़े: 'नहीं रद्द होगी NEET की परीक्षा...' सुप्रीम कोर्ट का काउंसिल पर रोक से इनकार, NTA को नोटिस

MPCG.NDTV.in पर मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ की ताज़ातरीन ख़बरों को ट्रैक करें. देश और दुनियाभर से न्यूज़ अपडेट पाएं. इसके अलावा, मनोरंजन की दुनिया हो, या क्रिकेट का खुमार,लाइफ़स्टाइल टिप्स हों,या अनोखी-अनूठी ऑफ़बीट ख़बरें,सब मिलेगा यहां-ढेरों फोटो स्टोरी और वीडियो के साथ.

फॉलो करे:
NDTV Madhya Pradesh Chhattisgarh
डार्क मोड/लाइट मोड पर जाएं
Our Offerings: NDTV
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • इंडिया
  • मराठी
  • 24X7
Choose Your Destination
Previous Article
Aagjani Case Exclusive: पखवाड़े भर पहले ही हिंसा का बनने लग गया था माहौल, 200 हिरासत में, फॉरेंसिक टीम के हाथ लगे अहम साक्ष्य
Durg में भीषण गर्मी,  Dialysis के दौरान पसीने से तरबतर हो रहे मरीज... डायलिसिस यूनिट का AC 3 महीने से खराब
addicted to online game after losing money boy committed suicide
Next Article
Crime: इस गेम की थी लत, पैसे हारने के बाद इस वजह से लगाई फांसी
Close
;